Definition of women's economic empowerment

महिला आर्थिक सशक्तिकरण की परिभाषा 

Definition of women's economic empowerment
Definition of women's economic empowerment


महिला सशक्तिकरण की आवश्यकता

Need of women empowerment : समाज में महिलाओ की परिस्थी एवं उनके अधिकारों में वृद्धि ही महिला सशक्तीकरण है ! महिला ....  जिसे कभी मात्र भोग एवं संतान उत्पति की जरिया समझा जाता था आज वह पुरुषो के साथ हर क्षेत्र में कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है जमीन से आसमान तक कोई क्षेत्र अछूता नहीं है  ( महिला सशक्तिकरण की आवश्यकता )  जहाँ महिलाओ ने अपनी जित का परचम न लहरया हो हालाकी  यहाँ तक का सफर तय करने के लिए महिलाओ को काफी मुश्किलों एवं संघर्ष  के दौर से गुजरना पड़ा है ! 


Definition of women's economic empowerment
Definition of women's economic empowerment

( Need of women empowerment )  समकालीन समाज में नारी सम्बन्धी व्यख्या में तीन अवधरणाओं को प्रयुक्त किया जाता है  नारितत्व अर्थात जननिक आधारित पुरुष एवं नारी के बिच शारीरिक एवं जैविक अंतर का स्पष्टीकरण शारीरिक अंतर का आधार जेनेटिक होता है ( महिला सशक्तिकरण की आवश्यकता )  स्त्री पुरुष की शारीरिक बनावट आवाज एवं जनन अंगो अदि में विभेद प्राकृतिक होता है इन अन्तरो को पुरुष समाजिक असमानता के रूप में परिवर्तित करके लिंगीय विभेद संबंधी अधिकारों एवं वर्जनाओं को परस्तुत करता है


महिला सशक्तिकरण की परिभाषा  

 Definition of women empowerment :    इसे स्त्री ने स्वीकर करके अपनी जीवन शैली को उसी के अनुरूप ढाला इस तरह नारी के चाल चलन आदते तोर तरीके शारीरिक सजावट वस्त्रदि के मापदंड बनते चले गए  अवधरणा नरियता सम्बन्धी है समाज एवं संस्कृति के दारा नारी का विशिष्ट निर्माण नारीयता है (महिला सशक्तिकरण की परिभाषा ) जिसके माधयम से उसकी परिस्थति भूमिका पहचान सोच मूल्य एवं अपेक्षाओ को गाढ़ा जाता है 

Definition of women's economic empowerment
Definition of women's economic empowerment


( Definition of women empowerment )  नारियता के निर्माण की प्रिक्रिया समाज की संस्थओ सांस्कृतिक मूल्यों एवं व्यवहारों पर्थाओ रीती - रिवाजो लिखित एवं मौखिक ज्ञान परम्परोओं धार्मिक अनुष्ठानो तथा नारी - अपेक्षित विविशिष्ट मूल्यों से स्थापित होती है (महिला सशक्तिकरण की परिभाषा ) जन्म से ही बालिका को क्षमा भय लज्जा सहनशीलता सहिषुणता नमनीयता अदि के गुणों को आत्मसात करने की शिक्षा प्रदान की जाती है इस तरह के समाजीकरण का निर्धारण पुरुष प्रधान मानसिकता वाले समाज दोरा किया जाता है 


महिला सशक्तिकरण में समाज की भूमिका

 Role Of Society In Women Empowerment  : अवधारणा नारीवादी सम्बन्धी विचारवादी से जुड़ती है यह विचारधारा पुरुष एवं स्त्री के बिच की असमानता को अस्वीकार करके नारी के सशकितकरण की प्रक्रिया को बौद्धिक एवं  क्रियात्मक रूप प्रदान करती है आज वैश्विकरन के दौर में नारीवादी परिपेक्ष बहुआयामी सवरूप धारण कर चूका है ( महिला सशक्तिकरण में समाज की भूमिका )  एक तरफ जहा प्राचीन अप्रांसिंग विचारधारा को चुनौतियों मिल रही हे तो दूसरी और पुरुष मानसिकता दौरा प्रदत सामाजिक - सांस्कृतिक परिस्थति को नाकारा जा रहा हे 

Definition of women's economic empowerment
Definition of women's economic empowerment


( Role of society in women empowerment )  औरत और नारी के बिच कशमकश से संघर्ष करती आज की स्त्री में छटपटाहट हे आगे बढ़ने की जीवन एवं समाज के प्रत्येक क्षेत्र में कुछ कर गुजरने की अपने अविराम अथक परिश्रम से पूरी दुनिया में एक नया सवेरा लाने की और एक ऐसी सशक्त इबारत लिखने की जिसमे महिला को आवला के रूप में देखा जाए 

( महिला सशक्तिकरण में समाज की भूमिका )  वास्तव में भारत ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में मुख्यत व्याप्त पुरुष प्रधान समाज ने एक ऐसी सामाजिक सरचना निर्मित की जिसमे प्रतेयक निर्णय लेने  सम्बन्धी अधिकार पुरुषो के पास ही सिमित रहे ( Role of society in women empowerment ) आदमी समाज  लेकर आधुनिक समाज तक आधी दुनिया के प्रति ऐसा भेदभावपूर्ण नजरिया रखा गया जिसने कभी भी स्त्रिया को एक वयक्ति के रूप में स्वीकार नहीं किया उसे  या तो देवी बनाया गया या फिर भोग्य वस्तु उसके व्यक्तित्व को उभरने का अवसर तो प्रदान ही नहीं किया गया       

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

यह ब्लॉग खोजें

Blog Archive

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *